ऑटो में जाकर फिल्म के पोस्टर चिपकाते थे आमिर खान, एक ने तो देखते ही भगाया, आज करते हैं बॉलीवुड पर राज

आमिर खान (Aamir Khan) लंबे समय से लोगों का मनोरंजन करते आ रहे हैं. आमिर हर साल एक ऐसी फिल्म लेकर आते हैं, जो लोगों को सालों-साल याद रहती है. आमिर ने अपना 57वां जन्मदिन मनाया. एक्टर ने अपनी जिंदगी के 30 साल मनोरंजन जगत को दिए. आज वो फिल्म इंडस्ट्री का एक जाना-माना चेहरा हैं, लेकिन कभी वो ऐसे दौर से भी गुजरे हैं जब उन्हें अपनी फिल्मों के पोस्टर खुद सड़क की खाक छानकर लगाने पड़ते थे.

आमिर के स्ट्रगल के दिन :आमिर खान एक जानी मानी हस्ती है लेकिन ये हमेशा से ऐसा नहीं था. उन्होंने भी एक बहुत छोटे कलाकार के तौर पर अपनी अभिनय की शुरुआत की थी. उस वक्त आमिर खान को बहुत कम लोग जानते थे और सोशल मीडिया जैसी मेडियम्स तब नहीं हुआ करते थे. वह सड़कों पर घूम-घूमकर ऑटो रिक्शा पर अपनी फिल्म के पोस्टर लगाते थे. सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में आप साफ तौर आमिर खान (Aamir Khan) को देख सकते है.

कयामत से कयामत तक’ से मिली सफलता:आमिर (Aamir Khan) ने अपने करियर की शुरुआत 1973 में रिलीज हुई फिल्म ‘यादों की बारात’ (Yaadon Ki Baaraat)से की थी. इसके बाद वह फिल्म मदहोश और होली में नजर आए. लेकिन सही मायने में आमिर खान(Aamir Khan) को बड़ा लॉन्च 1988 में फिल्म ‘कयामत से कयामत तक’ (Qayamat Se Qayamat Tak) से मिला था. फिल्म में आमिर खान और जूही चावला (Juhi Chawla)थे. विलियम शेक्सपियर के रोमियो जूलियट से प्रेरित होके इस फिल्म को बनाया गया. इस फिल्म की सफलता के लिए आमिर खान (Aamir Khan) ने भरसक कोशिश की थी.वो कोशिश कामयाब भी रही और फिल्म हिट हो गयी.


कई अवॉर्ड किए अपने नाम:बॉलीवुड में मिस्टर परफेक्शनिस्ट कहलाए जाने वाले आमिर खान (Aamir Khan) को किसी परिचय की जरुरत नहीं है. अपने अनोखे अभिनय से उन्होंने फिल्मी दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाई है. 2003 में, भारत सरकार ने उन्हें पद्म श्री और 2010 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया. यहां तक ही नहीं, चीन सरकार ने भी 2017 में Honorary उपाधि दी. वह प्रसिद्ध निर्माता और निर्देशक ताहिर हुसैन के बेटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.