अग्निपथ योजना के तहत सेना में भर्ती होना चाहती है रवि किशन की बेटी, लोगों का आया ये रिएक्शन

केंद्र सरकार ने दशकों पुरानी रक्षा भर्ती प्रक्रिया (Agnipath Recruitment Scheme ) में बड़ा परिवर्तन किया है. थलसेना, नौसेना और वायुसेना में सैनिकों की भर्ती संबंधी ‘अग्निपथ’ योजना को लॉन्च किया है. इसके तहत अब अग्निवीर सैनिक चार साल के लिए सेना में सेवा का मौका पा सकेंगे. इसमें केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) और असम राइ,फल्स (Assam Ri,fles) में भर्तियों में मिलने वाली प्राथमिकताएं मुख्य रूप से शामिल हैं. ऐसे में अब भोजपुरी एक्टर और सांसद रवि किशन (Ravi kishan) की बेटी इशिता शुक्ला भी इस स्कीम के तहत सेना में भर्ती होना चाहती हैं.

रवि किशन ने बेटी की इस इच्छा को ट्वीट करके शेयर किया है. उन्होंने लिखा, ‘मेरी बिटिया ईशिता शुक्ला, आज सुबह बोली पापा मैं अग्निपथ भर्ती स्कीम का हिस्सा बनना चाहती हूं. फिर मैंने कहा, ‘जाओ बेटा आगे बढ़ो’.’ रवि किशन की पोस्ट पर जहां फैंस उनकी बेटी के फैसले की तारीफ कर रहे हैं वहीं, कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो इस स्कीम की ही आलोचना कर रहे हैं.

अपनी बेटी को अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) में शामिल होने की बात को लेकर रवि किशन सोशल मीडिया पर काफी ट्रो,ल किए जा रहे हैं. लोग उनके इस ट्वीट पर अलग-अलग प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं. एक ट्विटर यूजर ने रवि के इस पोस्ट पर ट्वीट करके लिखा है कि ‘उन गरीब साथियों के बारे में जरा सोचिए, जो सालों साल मेहनत करते हैं, सरकारी नौकरी के लिए. या फिर 4 साल के ठेके की नौकरी पर रखे जाने के लिए.’ कई अन्य यूजर्स रवि किशन को बेटी के सेना में भर्ती होने के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं भी दे रहे हैं.

एक यूजर ने लिखा, ‘ये स्कीम अभी महिलाओं के लिए नहीं आई है’. दूसरे ने लिखा, ‘नोकरी को स्कीम बना दिया है कुछ शर्म करो, फौज की नोकरी गांव देहात वाले के लिए एक स्थाई आमदनी का साधन होती है देश सेवा के साथ मैं,आप ग्रामीण जीवन की ढांचागत व्यवस्था पर ह,मला कर रहे है उस का नतीजा 2024 मैं भोगना पड़े गा,आप कितनी भी ब्रांडिंग कर ले.’ इसी तरह से लोग जमकर कमेंट्स कर रहे हैं.

 

 

 

  1. अग्निपथ रिक्रूटमेंट योजना से जुड़ी बड़ी बातें:-
  2. – सेना में भर्ती मात्र चार साल के लिए होगी. इन चार साल के दौरान उन्हें अग्निवीर के नाम से जाना जाएगा
  3. – चार साल बाद सैनिकों की सेवाओं की समीक्षा की जाएगी. समीक्षा के बाद 25 प्रतिशत अग्निवीरों की सेवाएं आगे बढ़ाए जाएंगी. बाकी 75 प्रतिशत को रिटायर कर दिया जाएगा.
  4. – चार साल की नौकरी में छह महीने की ट्रेनिंग भी शामिल होगी.
  5. – साढें 17 साल से लेकर 21 साल तक की उम्र वाले अग्निवीर के लिए योग्य होंगे
  6. – थलसेना और नौसेना में महिलाओं को भी अग्निवीर बनने का मौका मिलेगा.
  7. – अग्निवीरों को 4.76 लाख का सालाना सैलेरी पैकेज मिलेगा यानि हर महीने करीब 30 हजार. चौथे वर्ष तक ये पैकेज 6.92 लाख हो जाएगा. इसके अलावा सियाचिन जैसे इलाकों के लिए रिस्क एंड हार्डशिप एलाउंस भी मिलेगा.
  8. – रिटायरमेंट के बाद पेंशन नहीं मिलेगी बल्कि एक मुश्त राशि दी जाएगी. इस राशि को सेवा निधि पैकेज नाम दिया गया है. इसके तहत रिटायरमेंट के बाद 11.7 लाख की राशि मिलेगी. ये सेवा निधि पैकेज अग्निवीर की सैलरी का 30 प्रतिशत और इतना ही सरकार का योगदान के साथ मिलकर बनाया गया है. ये सेवा निधि पैकेज पूरी तरह से आयकर मुक्त होगी.
  9. – सेवा के दौरान अगर कोई अग्निवीर वीरगति को प्राप्त हो जाता है तो उसके परिवार को एक करोड़ की सहायता राशि मिलेगी. साथ ही अग्निवीर की बची हुई सेवा की सैलरी भी परिवार को मिलेगी.
  10. -अगर कोई अग्निवीर सेवा के दौरान अपंग हो जाता है तो उसे 44 लाख की राशि दी जाएगी और बाकी बची सेवा की सैलरी भी मिलेगी.
  11. – खास बात ये होगी कि अब सेना की रेजीमेंट्स में जा,ति, ध,र्म और क्षेत्र के हिसाब से भर्ती नहीं होगी बल्कि देशवासी के तौर पर होगी. यानि कोई भी जा,ति, ध,र्म और क्षेत्र का युवा किसी भी रेजीमेंट के लिए आवेदन कर सकेगा. दरअसल, सेना में इंफेंट्री रेजीमेंट अंग्रेजों के समय से बनी हुई हैं जैसे सिख, जाट, राजपूत, गोरखा, डोगरा, कुमाऊं, गढ़वाल, बिहार, नागा, राजपूताना-राईफल्स (राजरिफ), जम्मू-कश्मीर लाइट इंफेंट्री (जैकलाई), जम्मू-कश्मीर राईफल्स (जैकरिफ) इत्यादि. ये सभी रेजीमेंट जाति, वर्ग, धर्म और क्षेत्र के आधार पर तैयार की जाती हैं. आजादी के मात्र एक ऐसी, द गार्ड्स रेजीमेंट ऐसी है जो ऑल इंडिया ऑल क्लास के आधार पर खड़ी की गई थी. लेकिन अब अग्निवीर योजना में माना जा रहा है कि सेना की सभी रेजीमेंट ऑल इंडिया ऑल क्लास पर आधारित होंगी. यानि देश का कोई भी नौजवान किसी भी रेजीमेंट के लिए आवेदन कर सकेगा. आजादी के बाद से रक्षा क्षेत्र में ये एक बड़ा डिफेंस रिफोर्म माना जा रहा है.

तीन बेटियों और एक बेटे के पिता हैं रवि किशन:आपको बता दें कि रवि किशन रियल लाइफ (Ravi kishan Real life) में चार बच्चों के पिता हैं. वो 3 बेटियों और एक बेटे के पैरेंट हैं. उनकी बेटियों के नाम रीवा, तनिष्क और इशिता हैं. इसके साथ ही एक बेटा सक्षम है. एक्टर की पत्नी प्रीति हैं. उनकी बेटी रीवा बॉलीवुड में एंट्री कर चुकी हैं. उन्होंने साल 2020 में रिलीज हुई फिल्म ‘सब कुशल मंगल’ (Sab kushal Mangal) से डेब्यू किया था. इसमें वो अक्षय खन्ना और प्रियांक शर्मा के साथ नजर आई थीं. इस मूवी में उनकी एक्टिंग को काफी पसंद किया गया था. वहीं, बेटी इशिता एनसीसी कैडेट हैं. वो अक्सर NCC के इवेंट्स में हिस्सा लेते हुए नजर आती हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.