बेटी सारा अली खान के पैदा होते ही अमृता का लिया एक फैसला बन गया दोनों के रिश्ता टूटने की वजह!

सैफ अली खान और अमृता सिंह ने जमाने की परवाह छोड़ एक दूसरे का हाथ थामा था. दोनों के बीच उम्र का बड़ा अंतर था. अमृता सैफ से पूरे 13 साल बड़ी थीं. लेकिन दोनों ने प्यार के आगे इस बड़े फर्क को भी नजरअंदाज कर दिया. पटौदी परिवार इस रिश्ते के लिए राजी नहीं फिर भी दोनों ने शादी करने का जो एक बार फैसला लिया तो उसे पूरा करके ही दिखाया.

अमृता और सैफ 1991 में शादी के बंधन में बंधे थे. उस वक्त अमृता बॉलीवुड की बड़ी स्टार थीं और लगभग हर बड़े स्टार के साथ काम कर चुकी थीं वहीं सैफ थे कि उनकी पहली फिल्म फ्लोर पर ही आई थी. यानि सैफ का नाम तब हर किसी के लिए अनजाना और अनसुना था.

उनकी पहचान उस वक्त सिर्फ एक्ट्रेस शर्मिला टैगोर और क्रिकेटर मंसूर अली खान पटौदी के बेटे के तौर पर थी. शादी के 5 साल बाद दोनों के घर पहली खुशी आई. बेटी सारा अली खान का जन्म हुआ. जब सारा पैदा होने वाली थीं उससे पहले ही अमृता ने एक फैसला लिया था और शायद यही फैसला सैफ और अमृता के बीच दरार का कारण बना.

अमृता ने शादी के बाद फिल्मों में काम तो किया लेकिन फिर धीरे धीरे वो फिल्मों में कम ही नजर आने लगीं. जब अमृता मां बनने वाली थीं तो उन्होंने ये तय कर लिया था कि वो अब एक्टिंग छोड़कर पूरी तरह घर परिवार की देखरेख में जुट जाएंगीं. लेकिन शायद यही बात सैफ को पसंद नहीं आई.

धीरे धीरे सैफ कामयाबी की बुलंदियों को छूने लगे और अमृता घर परिवार की ही होकर रह गई. सारा के जन्म के कुछ समय बाद ही दोनों के बीच अनबन की खबरें आने लगीं और देखते ही देखते ये झगड़े इतने बढ़ कि दोनों अलग रहने लगे. जब बात बनती हुई नजर नहीं आई तो बस दोनों ने पूरी तरह अलग होने का फैसला ले लिया और 2004 में इनका तलाक हो गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.