VIDEO : चलते ट्रेन में लड़के ने लड़की के मांग में भरा सिंदूर, उसके बाद जो खुलासा हुआ, सुनकर सब दंग रह गए..

कहते हैं कि विधि का लिखा कोई नहीं मिटा सकता और यह भी कहा जाता है कि शादी सात जन्मों का बंधन होता है लेकिन सुल्तानगंज प्रखंड क्षेत्र के भीर खुर्द पंचायत के प्रेमी प्रेमिका ने चलती ट्रेन में ही शादी रचा ली और यात्रियों को साक्षी मानकर साथ जीने मरने हर सुख दुख में साथ देने का वादा किया।

विश्वस्त सूत्रों की मानें तो दोनों के बीच लंबे अरसे से प्रेम प्रसंग चल रहा था। इसी बीच लड़की के परिजनों को इसकी भनक लगी तो दो माह पूर्व लड़की की शादी किरणपुर गांव में करा दी। जिसके बाद लड़का बेचैन होने लगा। इधर वट सावित्री पूजन के लिए अपने ससुराल से मायके पहुंची विवाहिता अपने प्रेमी के साथ फरार हो गई।

प्रेमी-प्रेमिका ने ट्रेन में यात्रियों के सामने शादी कर ली। इस घटना की तस्‍वीर और वीडियो लगातार इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रहा है। हर ओर इस शादी की चर्चा हो रही है। ट्रेन में शादी करने का यह अनूठा मामले की जानकारी तब स्‍वजनों को मिली जब इसका वीडियो और फोटो उन्‍होंने इंटरनेट मीडिया पर देखा।

जानकारी के अनुसार यह मामला भागलपुर के सुल्तानगंज प्रखंड क्षेत्र के भीरखुर्द पंचायत का है। यहीं के एक प्रेमी-प्रेमिका ने चलती ट्रेन में शादी रचा लि है। दोनों ने रेल यात्रियों को साक्षी मानकर हर सुख-दुख में साथ देने का वादा किया। दरअसल, प्रेमी आशु और प्रेमिका अन्‍नू गांव से भागकर ट्रेन से दूर जा रहे थे। दोनों ने आपस में कुछ बात की।

इसके बाद प्रेमिका ने सभी यात्रियों के सामने अपना मंगलसूत्र गले से निकाला और पहले से मांग में भरे सिंदूर को साफ कर दिया। लड़की की इस हरकत को देख आसपास के यात्री चौंक गए। तभी लड़की ने ही अपने बैग से सिंदूर की डिब्बी निकाली और अपने प्रेमी आशु से लिपट गई।

यात्रियों के सामने प्रेमिका ने प्रेमी से कहा- भर दो मेरी मांग, कर लो अपना सपना पूरा। इसके बाद आसू ने ट्रेन में प्रेमिका अन्‍नू के मांग में सिंदूर भर दिया। यात्रियों के बीच ही साथ जीने-मरने और सात जन्मों तक साथ निभाने का वादा किया। शादी करने बाद दोनों ने अपना वीडियो इंटरनेट मीडिया पर जारी कर दिया। तब गांव के लोगों को पता चला।

गांव में चर्चा है कि दोनों के बीच लंबे अरसे से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेम प्रसंग की जानकारी जब लड़की के स्वजनों को हुई तो उन लोगों ने दो माह पहले उसकी शादी किरणपुर गांव में करा दी। शादी के बाद भी प्रेमी आशु उसके गांव जाता रहा। लड़की के घर के इर्द-गिर्द घूमता रहता था।

हाल में ही लड़की के ससुराल वाले को भी शक हो गया। लेकिन कोई प्रमाण न मिलने के कारण वह विरोध नहीं कर पा रहे थे। बुधवार को लड़की खरीदारी करने के बहाने घर से निकली। सीधे अपने प्रेमी से मिलने पहुंच गई। वहां पर दोनों सभी से नजरे चुराकर भाग निकले। सीधे स्टेशन पहुंच गए। वहां से ट्रेन में चढ़कर चल दिए।

प्रखंड क्षेत्र के भीरखुर्द पंचायत के प्रेमी और प्रेमिका की अनोखी शादी की फोटो इंटरनेट मीडिया वायरल होने लगी। इस संबंध में पंचायत के मुखिया संजीव कुमार सुमन का कहना है कि इस हरकत की जितनी भर्त्सना और निंदा की जाए कम है। प्रशासन को ऐसी हरकत पर सख्त कदम उठाने की जरूरत है ताकि इस तरह की हरकत कोई न करें।

दोनों प्रेमी प्रेमिका भागकर एक ट्रेन से अपने गांव से कहीं दूर जा रहे थे। इसी बीच दोनों ने अपने प्रेम की कहानी शुरू कर दी। प्रेमी आशू कुमार ने लड़की से कहा कि तुमने मेरे साथ जीने और मरने का वादा किया था, लेकिन तुम परिवार के दबाव में पलट गई और किसी और से शादी कर के मेरे सजाए सारे अरमानों पर पानी फेर दिया।

विवाहित प्रेमिका की आंखें भर आई। पहले तो उसने अपना मंगलसूत्र उतारे फिर अपने सिंदूर को पोंछ दिया। ऐसा करने का कारण पूछा तो प्रेमिका ने चुप्पी साध ली। चुपचाप अपने बैग से सिंदूर की डिब्बी निकाली और अपने प्रेमी को मांग भरने को कहा। यूं तो दोनों किसी अनजान सफर पर निकले थे, लेकिन रास्ते में ही दोनों साथ जन्मों के साथी बन गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.