इंडिया टीम के पास है दुनिया का सबसे बड़ा सिक्सर किंग, बदकिस्मती से नहीं मिल रही टीम में जगह

क्रिकेट को चाहने वालों की तादाद बहुत बड़ी है। यूं कह ले की क्रिकेट के लाखों दीवाने हैं।हर एक क्रिकेटर अपने नेशनल टीम में खेलने का सपना पालता है।

अपने देश की राष्ट्रीय टीम में खेलने के लिए एक क्रिकेटर काफी मेहनत करता है और हर बार घरेलू स्तर से लेकर जहां मौका मिलता है वहां अपना बेस्ट देने की कोशिश में लगा रहता है। अपने घरेलू क्रिकेट के प्रदर्शन के दम पर कई ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्हें देश की टीम में खेलने का मौका मिल जाता है।

भारतीय क्रिकेट की बात करें तो भारत में खेली जाने वाले सबसे लोकप्रिय घरेलू टूर्नामेंट में से एक रणजी ट्रॉफी में भी कई खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन होता है। जिसमें से कई खिलाड़ी तो कुछ ही साल रणजी के प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम में जगह बना लेते हैं।

लेकिन कुछ ऐसे खिलाड़ी होते हैं जो रणजी के रण में लगातार योद्धा की तरह अपना सर्वस्व देते रहते हैं, लेकिन उन्हें अंत तक भारतीय टीम में जगह नहीं मिल पाती है। ऐसा ही दर्द कई खिलाड़ियों के साथ है जिसमें से एक क्रिकेटर ने अपना ये दर्द बयां किया है।

प्रथम श्रेणी में शैल्डन जैक्सन के लगा चुके हैं 100 से ज्यादा छक्के
ये बल्लेबाज घरेलू क्रिकेट में पिछले कई सालों से अपनी चमक बिखेर रहा है। जिसके नाम प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 100 से ज्यादा छक्के भी हैं, 115 छक्के लगाने वाले इस बल्लेबाज के नाम 4 रणजी सीजन में 750 से ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है।

शैलडन जैक्सन प्रथम श्रेणी क्रिकेट में करीब 50 की औसत से रन बनाने वाले इस बल्लेबाज ने अब अपने करियर को खत्म करने का फैसला किया है। 76 प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैचों में शेल्डन जैक्सन ने 19 शतक और 27 पचासों की मदद से 5634 रन बनाए हैं।

जैक्सन ने बयां किया अपना द’र्द
ऐसे रिकॉर्ड वाले शेल्डन जैक्सन भारतीय टीम में मौका ना मिल पाने से निराश हैं, और उन्होंने अब अपने खेल को अंत करने की सोच ली है। उनका दर्द उनके बयां से साफ हो जाता है। उन्होंने क्रिकेट नेक्स्ट के साथ बात की जहां कहा कि वो यहां मजे करने के लिए नहीं है बल्कि टीम इंडिया में जगह बनाने के लिए लगातार प्रदर्शन कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.