आंखों से दिखाई ना देने के बावजूद बनी करोड़पति, ऐसी है आगरा की दिव्यांग हिमानी बुंदेला की दर्द भरी कहानी

KBC एक पॉपुलर शो है। Tv पर आते ही इसके दीवानों की खुशी देखते हो बनती है।

केबीसी-13 की पहली करोड़पति प्रतिभागी हैं ताजनगरी की हिमानी। गणित की शिक्षक हैं हादसे में खो दी थी दोनों आंखों की रोशनी। सात करोड़ रुपये के लिए पूछे गए सवाल को लेकर अभी है सस्‍पेंस बरकरार है।

ताजनगरी की हिमानी बुंदेला केबीसी-13 में लखपति बन गई हैं। उन्होंने 50 लाख रुपये जीत लिए हैं। केबीसी-13 के प्रोमो में उन्हें पहली करोड़पति प्रतिभागी बताया गया है। हिमानी के करोड़पति बनने के एपिसोड का प्रसारण मंगलवार को रात में होगा। सात करोड़ रुपये के सवाल पर अभी सस्पेंस बरकरार है।

ताजनगरी के गुरु गोविंद नगर, राजपुर चुंगी निवासी हिमानी बुंदेला (25) केंद्रीय विद्यालय नंबर-एक में गणित की शिक्षक हैं। 15 वर्ष की उम्र में एक हादसे में हिमानी ने अपनी आंखों की रोशनी खो दी थी। पिछले दिनों केबीसी-13 के प्रोमो में उन्हें शो का पहला करोड़पति प्रतिभागी बताए जाने के बाद वो चर्चा में आईं। इसके बाद उनकी जिंदगी पूरी तरह बदल चुकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी उन्हें बधाई दी है। सोमवार रात उनके प्री-रिकार्डेड एपिसोड का प्रसारण हुआ। बचपन में अमिताभ बच्चन बनकर दोस्तों के साथ केबीसी खेलने वालीं हिमानी, अमिताभ बच्चन के सामने हाट सीट पर बैठीं नजर आईं। सोमवार को प्रसारित हुए एपिसोड में उन्होंने 50 लाख रुपये जीत लिए। शो में वो कितने रुपये जीतती हैं, इसका पता मंगलवार को एपिसोड का प्रसारण होने के बाद ही चल सकेगा।

चारों लाइफ लाइन का कर लिया यूज

हिमानी ने पहली लाइफ लाइन का यूज 1.6 लाख रुपये के सवाल के लिए किया। आडियंस पोल के द्वारा उन्होंने सही जवाब दिया। 25 लाख रुपये जीतने के बाद अमिताभ बच्चन ने उन्हें सरप्राइज देते हुए उनके फेवरेट सिंगर जुबिन नौटियाल से फोन पर बात कराई। 50 लाख रुपये के सवाल पर उन्हाेंने दूसरी लाइफ लाइन फ्लिप का इस्तेमाल किया। सवाल बदलने के बाद उन्होंने तीसरी लाइफ लाइन 50-50 का यूज किया। कंफ्यूज होने पर उन्होंने चौथी लाइफ लाइन आस्क द एक्सपर्ट की सहायता से 50 लाख रुपये जीते।

कौन बनेगा करोड़पति’ सीजन 13 (Kaun Banega Crorepati Season 13) को अपना पहला करोड़पति मिल गया है. आगरा की दृष्टिहीन कंटेस्टेंट हिमानी बुंदेला (Himani Bundela) ने सभी सवालों के सही जवाब देते हुए 1 करोड़ अपने नाम कर लिए हैं. सोनी टीवी द्वारा शेयर किए गए प्रोमो में हम शो के होस्ट अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को हिमानी को बधाई देते हुए देख सकते हैं. वीडियो में अमिताभ बच्चन हिमानी का जवाब सुनने के बाद जोर से कह रहे हैं कि ‘एक करोड़ जीत गई हैं आप.’ हिमानी भी यह सुनकर खड़े होकर अपनी खुशियां जाहिर करते हुए नजर आ रही हैं.

एक करोड़ जीतने के बाद हिमानी 7 करोड़ के सवाल का सामना करने वाली हैं. अमिताभ बच्चन द्वारा उनसे 7 करोड़ का सवाल पूछते हुए हम शो के प्रोमो में देख सकते हैं. लेकिन 7 करोड़ के सवाल का पड़ाव पार करना सभी के लिए काफी चैलेंजिंग होता हैं, क्योंकि लाइफ लाइन होने के बावजूद भी कंटेस्टेंट्स इस सवाल का जवाब देने के लिए उसका इस्तेमाल नहीं कर सकते. हालांकि, 1 करोड़ तक पहुंचते-पहुंचते ज्यादातर कंटेस्टेंट्स की सभी लाइफ लाइन्स खर्च हो जाते हैं.

जिंदगी से नहीं मानी हार

हिमानी दृष्टिहीन जरूर हैं, लेकिन उन्होंने जिंदगी से हार नहीं मानी है. उनकी कविता जिंदगी जीने की एक नई उम्मीद देती हैं. वह कहती हैं कि “यूं तो जिंदगी सब काट लेते हैं, मगर जिंदगी जियो ऐसे की मिसाल बन जाए.” वैसे तो कोरोना काल में अमिताभ बच्चन किसी से हाथ नहीं मिलाते, लेकिन वह हिमानी का हाथ पकड़कर खुद उन्हें हॉट सीट तक लेकर जाते हुए आगामी एपिसोड में नजर आने वाले हैं. इतना ही नहीं, इस खेल के दौरान हम बॉलीवुड के इस महानायक को हिमानी को एक गिलास पानी भी देते हुए देखने वाले हैं.

अनूपा दास जीत सकती थीं 7 करोड़ रुपये

पिछले सीजन यानी कौन बनेगा करोड़पति सीजन 12 में कंटेस्टेंट अनूपा दास ने उनसे पूछे गए 7 करोड़ के सवाल का सही जवाब दिया था. लेकिन उन्होंने सही जवाब देने से पहले शो क्विट करने का फैसला लिया था, इसलिए वह सिर्फ 1 करोड़ लेकर घर गईं. हालांकि, इस बात का अनूपा को कोई पछतावा नहीं था. उन्होंने कहा था कि 1 करोड़ की रकम रिस्क लेने के लिए काफी बड़ी रकम थी. इसलिए उन्होंने 1 करोड़ लेकर खेल क्विट करने का फैसला लिया था.

मेरे पास खोने को कुछ नहीं था। अगर जीतती नहीं तो कुछ सीखकर जरूर आती। अभी तो बस शुरुआत है, जीवन में बहुत कुछ करना बाकी है। यह कहना है केबीसी-13 की पहली करोड़पति हिमानी बुंदेला का। राजपुर चुंगी की रहनी वाली हिमानी शनिवार को पत्रकारों से रूबरू थीं। आत्मविश्वास के साथ उन्होंने सभी सवालों का जवाब दिया। हिमानी ने परिवार और अपने शहर का नाम गर्व से ऊंचा कर दिया है। उन्होंने कहा कि केबीसी से लौट कर आने के बाद आत्मविश्वास में और इजाफा हुआ है। महानायक अमिताभ बच्चन से मिलना और उस हॉट सीट पर बैठने का बचपन से ही मेरा सपना था। आगरा से मुंबई पहुंची और फिर केबीसी के सेट तक गई, यह अनुभव जीवन भर ताजा रहेंगे।

हिमानी से जब केबीसी की तैयारी को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि यह तैयारी दो-तीन वर्षों की नहीं बल्कि बचपन से थी। केबीसी में जाने का ख्वाब तो बचपन में ही संजो लिया था। जब 13 साल की थी, तभी से बड़ी बहन के साथ बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती थी। सामयिक विषयों  की जानकारी रखती थी।

पिता विजय सिंह बुंदेला ने कहा कि बेटी की इस उपलब्धि ने पूरे परिवार को गौरवांवित किया है। मां सरोज बुंदेला, बहन चेतना, भावना, पूजा और भाई रोहित सिंह की काफी खुश है। आसपास के लोगों का भी हिमानी बुंदेला के घर बधाई देने के लिए तांता लगा हुआ है।

एक करोड़ की रकम जीतने वाला एपिसोड रविवार (30 अगस्त) की रात नौ बजे सोनी टीवी पर प्रसारित होगा। राजपुर चुंगी की रहने वाली हिमानी बुंदेला ने अमर उजाला को बताया कि वे बचपन से ही केबीसी में जाना चाहती थीं। बचपन में अपने दोस्तों के साथ मिल कर केबीसी खेलती थीं और खुद अमिताभ बच्चन बनती थीं

हिमानी ने युवाओं को संदेश दिया कि कभी भी हार मान कर मत बैठो, उठो और अपने लक्ष्य का पीछा करो। हिमानी बुंदेला पेशे से गणित की शिक्षिका हैं। केंद्रीय विद्यालय नंबर एक में पढ़ाती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.