कमाल: कोल्हापुर के कार मैकेनिक इम्तियाज मोमिन ने दिखाया हुनर, अपनी टेक्निक से हेलिकॉप्टर ठीक कर दिया था

भारतीय लोग अक्सर अपनी जुगाड़ टेक्निक की प्रतिभा से दुनिया भर के लोगों को चौंका देते हैं। ऐसा ही एक उदाहरण 2016 में महाराष्ट्र के कोल्हापुर में सामने आया था। जब एक कार मैकेनिक ने बंद पड़े हेलीकॉप्टर को उड़ने लायक बना दिया था।ये मामला पेश आया था कांग्रेस नेता डीवाई पाटिल के बंगले पर।

जब उनके बंगले पर बने हेलीपैड पर मेहमानों को लेकर आया हेलीकॉप्टर उतारा गया। और मुलाकात के बाद जब मेहमान के जाने का वक्त हुआ, तो हेलीकॉप्टर उड़ा ही नहीं। पायलट ने बताया कि किसी तकनीकी खराबी के कारण हेलीकॉप्टर उड़ान नहीं भर रहा।

हेलीकॉप्टर कंपनी को फोन किया गया, तो पता चला कि इंजीनियर को वहां तक पहुंचने में कम से कम दो घंटे लग जाएंगे। अचानक किसी के मन में शहर के कार मैकेनिक ‘इम्तियाज मोमिन’ का ध्यान आया।

इम्तियाज एक बार पहले अपने भाई फिरोज मोमिन के साथ पानी में चलने वाली कार बनाकर कोल्हापुर के तालाब में चला चुके थे।जब उनका जिक्र आया तो एक व्यक्ति को इम्तियाज के गैराज पर भेजा गया।

उस वक्त गैराज में इम्तियाज की जगह फिरोज काम कर रहे थे। जब किसी ने चलकर हेलीकॉप्टर ठीक करने को कहा, तो उन्हें लगा कि वह मजाक कर रहा है। बड़े भाई इम्तियाज की गैरमौजूदगी के कारण भी इस काम को हाथ लगाने की उनकी हिम्मत नहीं पड़ रही थी

बार-बार आग्रह पर वह डीवाई पाटिल के बंगले की ओर चल पड़े। वहां वाकई एक बड़ा हेलीकॉप्टर खड़ा था। फिरोज ने इससे पहले कभी हेलीकॉप्टर ठीक करना तो दूर, उसे हाथ भी नहीं लगाया था। फिर भी उन्होंने पायलट से थोड़ा समझने के बाद हेलीकॉप्टर ठीक करना शुरू किया।

आधे घंटे के प्रयास में ही हेलीकॉप्टर के पंखे घूमने लगे। पायलट ने पहले परीक्षण उड़ान भरी। फिर मेहमान को लेकर रवाना हो गया। बता दें कि पश्चिमी महाराष्ट्र का कोल्हापुर शहर एक समय सर्वाधिक मर्सिडीज कारें रखने वाले शहर के रूप में जाना जाता था। यहां महंगी कारें ठीक करने वाले कई कार मैकेनिक रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.