Breaking News
Home / Entertainment / ‘राम तेरी गंगा मैली’ में बच्चे को दुध पिलाने वाले सीन पर छलका मंदाकिनी का दर्द, कहा- उस सीन के बाद मेरे साथ….

‘राम तेरी गंगा मैली’ में बच्चे को दुध पिलाने वाले सीन पर छलका मंदाकिनी का दर्द, कहा- उस सीन के बाद मेरे साथ….

1985 में आई फिल्म “राम तेरी गंगा मैली” तो आप सभी को याद ही होगी।मंदाकिनी ने उस समय के दौरान इस फिल्म में इतने ज्यादा हॉट सींस दिए थे कि खूब बवाल मच गया था। कुछ लोगों ने इसे क्लासिक फिल्म माना तो कुछ लोगों ने इसे अ’ श्ली’ ल तक बता दिया। इस फिल्म में अभिनेत्री मंदाकिनी के ऐसे कई सींस थे, जिसकी काफी आलोचना भी की गई। उनका झरने वाला सीन आज भी बॉलीवुड की गलियारों में चर्चा में रहता है। इसके अलावा, मंदाकिनी ने इस फिल्म में ‘स्तन’पान’ कराने वाला सीन भी किया था। फिल्म का यह सीन भी खूब चर्चा में रहा।

हिंदी सिनेमा के दिग्गज अभिनेता, निर्माता-निर्देशक रहे राज कपूर (Raj kapoor) की साल 1985 में आई फिल्म “राम तेरी गंगा मैली” तो आप सभी को याद ही होगी। यह फिल्म ब्लॉकबस्टर फिल्म साबित हुई थी। इस फिल्म में नजर आए तमाम सितारे भी रातों-रात फेमस हो गए थे। इस फिल्म से मंदाकिनी रातों-रात मशहूर हो गई थीं। यह फिल्म तो सुपरहिट हो गई और अभिनेत्री के बो’ल्ड सींस भी चर्चाओं का विषय बन गए।

फिल्म के इनको सीन्स ने मंदाकिनी को बोल्ड अभिनेत्री के रूप में पहचान दिलाई थी। अब 37 सालों के बाद मंदाकिनी ने स्त’नपा’न कराने वाले सीन पर चुप्पी तोड़ी है और उन्होंने बताया है कि उस सीन के पीछे क्या वजह थी।

मंदाकिनी में एक इंटरव्यू के दौरान इस सीन पर खुलकर बात की। अभिनेत्री ने बताया कि जब उन्होंने यह सीन किया था तब लोगों ने उनके लिए तरह-तरह की बातें बनाई थी। जब इंटरव्यू के दौरान मंदाकिनी से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने यह कहा कि सबसे पहले आप लोगों को मैं क्लियर कर दूँ कि वह सिर्फ एक स्त’न’पान सीन नहीं था, वह शूट इस तरह से किया गया था कि लोगों को देखने में वैसा लगे, यह फिल्म की डिमांड थी।

मंदाकिनी ने इंटरव्यू के दौरान आगे यह बताया कि मैं अगर समझाऊं कि वह सीन कैसे शूट हुआ, तो उसमें काफी वक्त लगेगा। सीन को शूट करने के पीछे लंबी कहानी है। आप स्क्रीन पर जो क्ली’वेज देख रहे हैं वह टेक्निकल भी होता है। लेकिन आज जिस तरह से फिल्मों में स्किन शो होता है, उस मुकाबले में तो वह सीन कुछ भी नहीं था। सच कहूं तो वह सीन बहुत ही शुद्धता के साथ शूट किया गया था, लेकिन आजकल की फिल्मों में तो सिर्फ का,,मु,,क,,ता ही देखती है।

जब मंदाकिनी से यह सवाल पूछा गया कि पद्मिनी कोल्हापुरी ने एक बार कहा था कि राम तेरी गंगा मैली के लिए उन्होंने 45 दिन शूटिंग की थी लेकिन मंदाकिनी की वजह से वह फिल्म उनके हाथ से निकल गई। मंदाकिनी ने इस पर यह कहा कि कि राज कपूर राम तेरी गंगा मैली में गंगा की भूमिका के लिए केवल फ्रेश चेहरा चाहते थे। मुझे पद्मिनी कोल्हापुरी वाली बात की जानकारी नहीं है। मैं सिर्फ इतना जानती हूं कि हर कोई उस भूमिका को निभाना चाहता था, लेकिन राज कपूर मुझे चाहते थे क्योंकि मैं एक फ्रेश चेहरा थी।

आपको बता दें कि “राम तेरी गंगा मैली” फिल्म के माध्यम से राज कपूर अपने बेटे राजीव को लॉन्च करना चाहते थे। इसी वजह से उनके ऑपोजिट वह नए चेहरे की वह तलाश कर रहे थे और मंदाकिनी सौभाग्यशाली साबित हुई थीं। कि उनकी खोज उन पर जाकर खत्म हो गई।

आपको बता दें कि साल 1996 में फिल्म जोरदार में मंदाकिनी आखिरी बार नजर आई थीं परंतु यह फिल्म कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। इसके बाद मंदाकिनी ने फिल्म इंडस्ट्री से दूरियां बना ली। हाल ही में उनका एक वीडियो रिलीज हुआ है। इस वीडियो के माध्यम से मंदाकिनी ने पूरे 26 साल के बाद वापसी की। मंदाकिनी ने अपने बेटे राबिल ठाकुर के साथ “मां ओ मां” वीडियो में काम किया।

About Vikram Vedha

Check Also

हमेशा जवान दिखने के लिए 65 साल के अनिल कपूर पीते हैं सांप का खू’न, खुद खोला राज…

आज हमारे देश में कई तरह के वाक्ये सुनने को मिलते रहते है, अगर हम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *