मौलवी की हिजाबी बेटी मोहादिसा जाफरी ने नाम किया रोशन, बनी कमर्शियल पायलट भरी सपनों की उड़ान

हिजाब ना तो कामयाबी में बाधा बनी ना ही पढ़ाई लिखाई में। हिजाबी गर्ल मोहादिसा जाफरी ने कमर्शियल पायलट बनकर साबित कर दिया की मेहनत और लगन सच्ची होनी चाहिए कामयाबी कदम चूमती है। मौलवी की हिजाबी बेटी ने भरी सपनों की उड़ान, मोहदिसा जाफरी कमर्शियल पायलट बन नाम रोशन कर दिया।

26 साल की मोहादिसा ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) से कमर्शियल पायलट का लाइसेंस हासिल किया है. मोहादिसा के माता पिता मौलवी हैं. पिता का नाम मौलाना शेर मोहम्मद जाफरी और मां का नाम अलीमा फराह जाफरी है. दोनों अपने स,मु,दाय को शिक्षित करने का काम करते हैं. शिक्षा के वास्तविक उद्देश्य को उन्होंने निजी जीवन में भी समझा और तमाम रू,ढ़ियों को तो,ड़ बेटी के सपने को उड़ान दी. बेटी मोहादिसा के कमर्शियल पायलट बनने पर उन्होंने खुशी जाहिर की.

कल्पना चवला की फैन हैं मोहादिसा:बेटी की उपलब्धि से गौरवान्वित मौलवी पिता ने मीडिया से कहा, खुश हूं मेरी लड़की है जो कमर्शियल पायलट बनी है.” मोहादिसा ने बताया कि वह जब 7 साल की थीं तब से कल्पना चावला (Kalpana Chawla) की फैन हैं. उन्होंने कहा, ”जैसे-जैसे मैं बड़ी हुई, मैंने कई लोगों की बायोग्राफी और आर्टिकल पढ़े.” कामयाब लोगों की कहानियों से मोहादिसा ने प्रेरणा ली.

मां ने कही यह बात:मोहादिसा के माता-पिता ने मीडिया से कहा कि उन्हें पता था कि वे कुछ भी गलत नहीं कर रहे हैं. मोहादिसा की मां ने कहा, ”अगर हमारी बेटी का एक सपना है और उसमें हमें उसकी मदद करनी चाहिए. मोहादिसा के पंख उड़ान भर सकें इसके उसके माता-पिता हवा साबित हुए. मोहादिसा के पिता ने कहा, ”मैं और मेरी पत्नी मौलवी हैं, अल्लाह की रहमत है की बेटी अपने सपने को पूरा कर पाई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.