समीर वानखेड़े पर नवाब मलिक का एक और बड़ा आरोप, जारी किया निकाहनामा और शादी की तस्वीर

नई दिल्ली, एजेंसी। महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक ने एनसीबी मुंबई के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े पर फिर व्यक्तिगत आरोप लगाया है। नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े के पहले विवाह की तस्वीर और निकाहनामा सार्वजनिक किया है।तस्वीर को ट्वीट करते हुए नवाब मलिक ने लिखा है.

डां शबाना कुरैशी के साथ समीर दाऊद वानखेड़े की पहली शादी का निकाहनामा। इससे पहले नवाब मलिक ने वानखेड़े पर अपनी सरकारी नौकरी हासिल करने के लिए फर्जी जन्म प्रमाण पत्र का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया था।

उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर समीर वानखेड़े का जन्म प्रमाणपत्र पोस्ट करते हुए लिखा था कि समीर दाऊद वानखेड़े का फर्जीवाड़ा यहां से शुरू होता है। इस जन्म प्रमाणपत्र में समीर का नाम समीर दाऊद वानखेड़े लिखा है।

लेकिन जन्म प्रमाणपत्र तैयार करनेवाले अधिकारी या कर्मचारी ने उसी स्थान पर स्टार बनाकर प्रमाणपत्र के दाहिने हिस्से में स्पष्ट रूप से समीर का नाम समीर ज्ञानदेव वानखेड़े लिखा है।

समीर वानखेड़े पर हो रहे राजनीतिक हमलों का जवाब देने के लिए अब उनकी पत्नी क्रांति रेडकर एवं बहन यास्मीन ने भी मोर्चा संभाल लिया है। क्रांति ने कहा है कि नवाब मलिक की रिसर्च और दलील कमजोर है।

अपने उपर लग रहे आरोपों पर समीर वानखेड़े ने स्पष्टीकरण जारी कर कहा था कि कि मेरे पिता ज्ञानदेव कचरूजी वानखेड़े एक्साइज विभाग में वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक रहे हैं। मेरे पिता हिंदू एवं मां स्वर्गीय जाहिदा एक मुस्लिम थीं।

माननीय मंत्री द्वारा किए जा रहे इस प्रकार के निजी हमलों से मैं और मेरा परिवार मानसिक एवं भावनात्मक रूप से काफी आहत है।

बता दें कि समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने भी टीवी चैनलों पर आकर अपने एवं अपने बेटे से संबंधित सारे कागजात दिखाते हुए कहा है कि मेरा नाम दाऊद नहीं है। मेरे बेटे पर लग रहे सभी आरोप गलत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.