शहादत हुसैन की क्रिकेट मैदान में 18 माह में वापसी लगा था 5 साल का बेन मैच के दौरान साथी खिलाड़ी को मा’रा था थप्प’ड़

बांग्लादेश के तेज गेंदबाज शहादत हुसैन की 18 महीने बाद प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी हुई है। अब वह ढाका प्रीमियर डिवीजन के मैच में खेलते नजर आएंगे। बता दें कि हुसैन ने साल 2019 में एक फर्स्ट क्लास मैच के दौरान मा’र’पी’ट की थी, जिसके बाद उन पर पांच साल का बै’न लगा था। हालांकि, उनके प्रति’बं’ध के कम करने को लेकर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। बता दें कि शहादत बांग्लादेश के लिए 38 टेस्ट और 51 एकदिवसीय मैच खेले हैं।

हुसैन ने मांगी थी माफी
हुसैन ने मार्च के महीने में अपने दुर्व्य’वहार के लिए मा’फी मांगी थी और कहा था कि वह अपनी मां के इलाज के लिए कुछ फंड लेने के लिए क्रिकेट में वापसी करना चाहते हैं।

हुसैन ने कहा था, ‘मुझे अपने कार्यों पर खेद है। मैं गलत था और मैं इसे फिर से नहीं करने की कोशिश करूंगा। मुझे अपने पूरे करियर के लिए कोई समस्या नहीं होगी। मेरी मां कैंसर की मरीज हैं। मैं अपनी मां के इलाज में मदद करने के लिए क्रिकेट में वापसी करना चाहता हूं।’

हुसैन ने बीसीबी से प्रति’बंध कम करने का किया था अनुरोध
इसके पहले फरवरी में इस तेज गेंदबाज ने बीसीबी से अनुरोध किया था कि वह उनके प्रतिबं’ध को कम करने पर विचार करे क्योंकि उसकी मां कैंसर से जूझ रही है और उसे उसके इलाज के लिए पैसे की आवश्यकता है। बीसीबी क्रिकेट संचालन के अध्यक्ष अकरम खान ने कहा था कि वे इस मामले को देखेंगे।

बीते कुछ महीने पहले अकरम खान ने कहा था, ‘वह अपने परिवार में बहुत सारी समस्याओं का सामना कर रहे हैं। उनकी मां को कैंसर है। वह अब क्रिकेट नहीं खेल रहे, इसलिए जब उन्होंने मुझे बुलाया, तो मैंने कुछ निदेशकों से बात की। हमने बीसीबी की अनुशासन समिति से अनुरोध किया है। हम उनसे सकारात्मक परिणाम प्राप्त करने के लिए आशान्वित हैं। मैंने बोर्ड अध्यक्ष को भी सूचित किया है, जो उनके बारे में भी सकारात्मक हैं। इंशा अल्लाह, हमें उम्मीद है कि वह एनसीएल में खेल सकते हैं।’यह खबर अमर उजाला से ली गयी है

Leave a Reply

Your email address will not be published.