सब्जी से लेकर अंडे तक पसंद करते हैं विराट कोहली,ऐसा है टीम इंडिया के कप्तान का डाइट चार्ट

डायट हर प्लेयर के लिए बहुत अहम होता है।संतुलित आहार पर विराट कोहली बहुत ध्यान रखते हैं।

कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) टीम के सबसे फिट खिलाड़ियाें में से एक हैं. वे फिटनेस को लेकर काफी गंभीर रहते हैं. सोशल मीडिया पर उन्होंने फैंस को अपने डाइट चार्ट के बारे में बताया. कोहली अभी मुंबई में क्वारंटाइन में हैं. टीम को अगले महीने इंग्लैंड के दौरे पर जाना है.

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली फिटनेस को लेकर काफी गंभीर रहते हैं. वे साथी खिलाड़ियाें को भी फिट रहने का संदेश देते रहते हैं. टीम इंडिया अभी मुंबई में क्वारंटाइन है और टीम को अगले महीने इंग्लैंड दौरे पर जाना है. टीम को वहां वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के अलावा इंग्लैंड से पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलनी है. कोहली फाइनल जीतकर पहली आईसीसी ट्रॉफी जीतना चाहेंगे।

विराट कोहली ने सोशल मीडिया पर सवाल-जवाब का सेशन रखा था. इसमें उन्होंने अपनी फिटनेस को लेकर जवाब भी दिए. फैंस ने कोहली से हर तरह के सवाल पूछे. उनकी डाइट से लेकर उन्होंने आखिरी चीज क्या गूगल की. एक फैन सवाल किया कि उनकी डाइट में क्या है. उन्होंने जवाब दिया, ‘ढेर सारी सब्जियां, कुछ अंडे, 2 कप कॉफी, दाल, किनोआ, खूब सारा पालक, डोसा बहुत पसंद है, लेकिन सब कुछ सीमित मात्रा में.’

एक फैन ने पूछा कि एक दिन में आप क्या खाते हैं. इस पर विराट कोहली ने कहा, ‘खूब सारा इंडियन खाना जो साधारण तरीके से बना हो और कभी-कभी चाइनीज भी. बादाम, प्रोटीन बार और फल.’ कोहली अभी मुंबई में रहते हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ खराब फिटनेस के कारण लेग स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को खेलने का मौका नहीं मिला था. तब कोहली ने कहा था कि सभी खिलाड़ियों को फिटनेस पर ध्यान देना चाहिए. हालांकि कुछ पूर्व खिलाड़ियों ने इसे लेकर कोहली की आलोचना भी की थी.

टीम इंडिया ने कपिल देव की कप्तानी में 1983 का वनडे वर्ल्ड का खिताब जीता था. तब टीम ने फाइनल में मजबूत टीम विंडीज को मात दी थी. इसके बाद सौरव गांगुली की कप्तानी में टीम 2002 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में संयुक्त विजेता बनी. फिर एमएस धोनी की कप्तानी में टीम ने 2007 में टी20 वर्ल्ड कप, 2011 में वनडे वर्ल्ड कप और 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब जीता.

कोहली 200 मैच में कप्तानी कर चुके हैं, लेकिन अब तक वे एक भी आईसीस ट्रॉफी नहीं जीत सके हैं. ऐसे में वे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल जीतकर खुद को कपिल, गांगुली और धोनी की श्रेणी में खड़ा करना चाहेंगे।

– विराट कोहली ने बतौर कप्तान इंग्लैंड में 5 टेस्ट खेले हैं. 1 में जीत मिली है, 4 में हार. बतौर कप्तान कपिल देव ने सबसे ज्यादा 2 टेस्ट जीते हैं. उनकी कप्तानी में टीम ने 3 में से 2 मैच जीते हैं और 1 मैच ड्रॉ रहा. इस तरह से कपिल की कप्तानी में टीम इंग्लैंड में टेस्ट नहीं हारी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.